उत्तर प्रदेश: मुज़फ़्फ़रनगर में उत्कल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त, 23 लोगों की मौत 100 से अधिक घायल

Uttar Pradesh: Utkal Express crashes in Muzaffarnagar, 14 people killed

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में खतौली के निकट पुरी-हरिद्वार के बीच चलने वाली उत्कल एक्सप्रेस के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए। इस हादसे में 23 लोगों के मारे जाने की जबकि कई लोगों के घायल होने की खबर है। ट्रेन पुरी से हरिद्वार जा रही थी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हरसंभव मदद का भरोसा दिया है जबकि एडीएजी लॉ एंड ऑर्डर घटनास्थल पहुंच गए हैं। दिल्ली से एनडीआरएफ की चारों टीमें घटनास्थल पर पहुंच गई हैं, जिसमें 200 जवान शामिल हैं। मेरठ एवं मुजफ्फरनगर से रेस्क्यू दल भी घटनास्थल पर पहुंचे हुए हैं। एनआईए की टीम भी घटनास्थल पर गई है जो आपराधिक नज़रिए से घटना की तफ्तीश कर रही है।

इस बीच जिन लोगों को देहरादून या हरिद्वार जाना था उनको प्रशासन ने विशेष वाहनों और बसों से रवाना कर दिया है। लोगों की जानकारी और सहायता के लिए नंबर भी जारी किए गए हैं। रेलवे पुलिस का नंबर- 131-2437160, एसडीएम खतौली का नंबर- 9454417008, रेलवे कंट्रोल रूम का नंबर- 0131-2645238 है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर मुजफ्फरनगर हादसे पर दुख जताया है, उन्होंने ट्वीट में कहा है- यूपी में ट्रेन के पटरी से उतरने से दुखी हूं। मेरी संवेदनाएं मृतकों के परिजनों के साथ हैं। घायलों को बचाया जा रहा है और राहत प्रदान की जा रही है।

मुजफ्फरनगर हादसे के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट किया है, उन्होने कहा कि मुजफ्फरनगर में उत्कल एक्सप्रेस के पटरी से उतरने पर बेहद दुखी हूं। मेरी संवेदनाए मृतकों के परिजनों के प्रति हैं। मैं घायलों के शीघ्र ठीक होने की कामना करता हूं। स्थिति पर रेल मंत्रालय कड़ी नजर बनाए हुए है।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने भी ट्वीट किया। उन्होने ट्वीट में कहा कि रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष, सदस्य यातायात को राहत और बचाव कार्य पर नजर रखने के लिए कहा है। मै खुद स्थिति पर नजर बनाए हुए हूं।

रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने दुर्घटना में मारे गए परिजनों को 3.5-3.5 लाख रुपये और गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रूपये सहायता राशि देने की घोषणा की है। मामूली रूप से घायलों को 25-25 हजार रुपये की मदद दी जाएगी।

मुज़फ्फरनगर में हुए रेल हादसे के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुख जताते हुए प्रशासन की ओर से हरसंभव मदद का भरोसा दिया है। योगी ने कहा कि वे रेल मंत्रालय के साथ लगातार संपर्क में बने हुए हैं।

Related posts

Leave a Comment