सुप्रीम कोर्ट सीबीआई न्‍यायाधीश बी.एच. लोया की मृत्‍यु की स्‍वतंत्र जांच की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई की

1984 anti-Sikh riots: Decision to constitute SIT again for 186 cases

उच्‍चतम न्‍यायालय ने आज कहा कि सी बी आई के विशेष न्‍यायाधीश बी एच लोया की कथित रहस्‍यमय मौत का मुद्दा गंभीर मामला है। स्‍वर्गीय लोया सोहराबुद्दीन शेख मुठभेड़ मामले की सुनवाई कर रहे थे। न्‍यायालय ने इस मुद्दे पर स्‍वतंत्र जांच की मांग वाली याचिकाओं पर महाराष्‍ट्र सरकार से भी जवाब मांगा है। उच्‍चतम न्‍यायालय ने कहा कि इस मामले में एकतरफा सुनवाई के बजाय द्विपक्षी सुनवाई की आवश्‍यकता है। न्‍यायमूर्ति अरूण मिश्र और न्‍यायमूर्ति एम एम शांतनागॉउडर ने महाराष्‍ट्र सरकार के वकील निशांत आर कंटेश्‍वरकर से कहा कि वे सोमवार तक उत्‍तर पेश करें।

महाराष्‍ट्र के एक पत्रकार ने यह याचिका दायर कर श्री लोया की मौत की निष्‍पक्ष जांच कराने की मांग की है। श्री लोया पहली दिसंबर, 2014 को विवाह समारोह में नागपुर गए थे, वही हृदयगति रूक जाने से उनका देहांत हो गया था।

Facebook Comments

Related posts

Leave a Comment