स्‍वघोषित संत आसाराम को एक नाबालिग के साथ दुष्‍कर्म मामले में जीवनपर्यन्‍त जेल में रहने की सजा

follow राजस्‍थान में जोधपुर की एक अदालत ने एक नाबालिग लड़की के साथ दुष्‍कर्म के मामले में दोषी स्‍वघोषित संत आसाराम को जीवनपर्यन्‍त जेल में रहने की सज़ा सुनाई है। आसाराम पर एक लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। जोधपुर केन्‍द्रीय जेल में विशेष रूप से बनाई गई अदालत में विशेष न्‍यायाधीश मधुसूदन शर्मा ने कड़ी सुरक्षा के बीच सजा सुनाई। हमारे संवाददाता ने बताया है कि इस मामले में दो दोषियों शिल्‍पी और शरद को बीस-बीस साल की सजा सुनाई गई है।

binäre option consors आसाराम को पांच साल पहले इसके आश्रम में एक नाबालिग लडकी के साथ दुराचार का दोषी ठहराया गया है। उसे 2013 में इस मामले में गिरफ्तार किया गया था, उसके बाद से वह जोधपुर की जेल में है। आसाराम को भारतीय दंड संहिता की धारा 376 डी और 376 दो एस के तहत दोषी पाया गया और मृत्‍यु तक आजीवन कारावार के लिए भेजा गया। वहीं इस मामले के अन्‍य दोषियों शिल्‍पी और शरद को भारतीय दंड संहिता की धारा 376 के तहत दोषी ठहराते हुए सजा सुनायी गई। पूरे राज्‍य में अभी स्थिति पूरी तरह सामान्‍य है।

Related posts

Leave a Comment

go here

follow url

get link

http://curemito.org/estorke/2198

follow

http://mhs.se/phpBB3/posting.php?mode=post

sapete dirmi se iq opzion e un sito da fidarsi

http://ortdestreffens.de/?yabloko=bin%C3%A4re-optionen-goldene-regeln&04a=32