प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्‍वीडन, ब्रिटेन और जर्मनी की यात्रा के लिए रवाना हुए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज स्‍वीडन, ब्रिटेन और जर्मनी की यात्रा के लिए रवाना हुए। उनकी यात्रा का उद्देश्‍य व्‍यापार और निवेश तथा अन्‍य प्रमुख क्षेत्रों में आपसी सहयोग बढ़ाना है। पहले चरण में प्रधानमंत्री मोदी कल रात स्‍टॉकहोम पहुंचेंगे। वे मंगलवार को पहले भारत-नॉर्डिक शिखर सम्‍मेलन में भाग लेंगे।

प्रधानमंत्री की स्‍वीडन यात्रा के दौरान भारत, स्‍वीडन के साथ मौजूदा संबंधों को मजबूत बनाने पर ध्‍यान केन्‍द्रित करेगा। स्‍वीडन में भारत की राजदूत मोनिका कपिल मोहता ने आकाशवाणी को बताया कि प्रधानमंत्री की यात्रा से निवेश, व्‍यापार और नई प्रौद्योगिकी जैसे क्षेत्रों में सहयोग बढ़ने की संभावनाएं हैं।

प्रधानमंत्री की यात्रा में दो अति‍ महत्वपूर्ण दस्‍तावेज जारी होंगे जिनमें से एक संयुक्‍त कार्य योजना होगा। यह दोनों प्रधानमंत्रियों के बीच मुंबई में मेक इन इंडिया कार्यक्रम के दौरान बनी सहमति के अनुरूप होगा। दूसरा नवाचार से संबंधित है जो दोनों देशों के बीच सहयोग के बारे में होगा।

सुश्री मोहता ने कहा कि करीब तीन दशकों के बाद किसी भारतीय प्रधानमंत्री की स्‍वीडन की यात्रा हो रही है।

भारतीय राजदूत ने बताया कि प्रधानमंत्री की यात्रा के दौरान भारत और स्‍वीडन दो दस्‍तावेज जारी करेंगे। स्‍वीडन में भारत के राजदूत के साथ आकाशवाणी संवाददाता की बातचीत आज रात सवा नौ बजे से एफ एम गोल्‍ड चैनल पर सुनी जा सकती है। श्री मोदी बुधवार और बृहस्‍पतिवार को लं‍दन में राष्‍ट्रमंडल देशों के राष्‍ट्राध्‍यक्षों और शासनाध्‍यक्षों की बैठक चोगम में शामिल होंगे।

यह सम्‍मेलन आज शुरू होगा। सम्‍मेलन का मुख्‍य विषय – साझा भविष्‍य है। इसमें राष्‍ट्रमंडल सदस्‍य देशों के लिए समृद्ध, सुरक्षित और स्थिर भविष्‍य की चुनौतियों पर विचार-विमर्श किया जाएगा। इस द्विवार्षिकआयोजन में राष्‍ट्रमंडल के 53 सदस्‍य देशों के प्रतिनिधि भाग लेंगे।

Related posts

Leave a Comment