सकारात्मक वैश्विक संकेतों सोने की चमक बढ़ी, चांदी भी मजबूत

Positive global cues, gold shine, silver strong

सकारात्मक वैश्विक संकेतों और स्थानीय आभूषण विक्रेताओं की लिवाली बढ़ने से राष्ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में बीते सप्ताह सोने की कीमत ने फिर से 29,000 रुपये के स्तर को हासिल किया।

औद्योगिक इकाइयों और सिक्का निर्माताओं का उठान बढ़ने से चांदी की कीमत भी 38,000 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर को छू गई।

बाजार सूत्रों ने कहा कि डॉलर के कमजोर होने के बीच बहुमूल्य धातुओं की मांग बढ़ गई और अमेरिकी फेडरल रिजर्व के प्रमुख जैनेट येलेन ने दोहराया कि ब्याज दरों को धीरे धीरे बढ़ाया जाएगा, जिससे विदेशों सर्राफा बाजारों में मजबूती का रुख कायम हो गया इससे यहां सोने की कीमतों में तेजी आई।

उन्होंने कहा कि इसके अलावा घरेलू हाजिर बाजार में आभूषण विक्रेताओं की लिवाली बढ़ने से बहुमूल्य धातुओं की कीमतों की तेजी को समर्थन प्राप्त हुआ।

वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोना तेजी दर्शाता 1,228.40 डॉलर प्रति औंस और चांदी तेजी के साथ 15.96 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुई।

राष्ट्रीय राजधानी में लिवाली समर्थन के अभाव में 99.9 प्रतिशत और 99.5 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने की सप्ताह के दौरान क्रमश: 28,780 रुपये और 28,630 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कमजोर शुरुआत हुई लेकिन मजबूत वैश्विक रुख के कारण सप्ताहांत में यह 150 .. 150 रुपये की तेजी दर्शाती क्रमश: 29,050 रुपये और 28,900 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुई।

हालांकि सीमित सौदों के बीच सीमित दायरे में घट बढ़ के बाद गिन्नी की कीमत पिछले सप्ताहांत के बंद स्तर 24,400 रुपये प्रति आठ ग्राम पर ही बंद हुई।

चांदी तैयार की कीमत सप्ताहांत में 600 रुपये की तेजी के साथ 38,000 रुपये प्रति किग्रा पर बंद हुई। जबकि चांदी साप्ताहिक डिलीवरी के दाम भी 770 रुपये की तेजी के साथ 37,000 रुपये प्रति किग्रा पर बंद हुए।

दूसरी ओर चांदी सिक्कों की कीमत 1,000 रुपये की गिरावट के साथ लिवाल 70,000 रुपये और बिकवाल 71,000 रुपये प्रति सैंकड़ा पर बंद हुई।

Related posts