एनडीए सरकार लोगों की सेवा के लिए भगवान बुद्ध के बताए करूणा और सेवा के रास्‍ते पर काम कर रही है: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी

http://beerbourbonbacon.com/?niokis=dating-three-months-gift&cfb=31 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि भगवान बुद्ध के बताए रास्ते पर चलकर वर्तमान की सभी समस्याओं का हल निकाला जा सकता है। नई दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में बुद्ध जयंती समारोह का उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा कि एन.डी.ए. सरकार लोगों की सेवा के लिए भगवान बुद्ध के बताए करूणा और सेवा के मार्ग पर चल रही है।

http://www.accomacinn.com/?falos=avatrade-0800 आज के युग में जिन संकटों से हम जूझ रहे हैं जिन समस्‍याओं से हम जूझ रहे हैं। उन समस्‍याओं का समाधान भगवान बुद्ध के दि‍खाए रास्‍ते पर चलते हुए संभव है। समय की मांग है कि संकट से अगर विश्‍व को बचाना है। बुद्ध का प्रेम का संदेश सबसे उपयुक्‍त मार्ग है।

click प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार गरीबों को सशक्त बनाने के लिए अनेक योजनाओं पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत 31 करोड़ से अधिक गरीबों ने अपने बैंक खाते खोले हैं। श्री मोदी ने कहा कि बुद्ध सर्किट के लिए सरकार ने तीन अरब साठ करोड़ रूपये से अधिक की धनराशि को मंजूरी दी है।

http://freejobseeker.com/page/10/?q=tadalafil-cost-australia बुद्धि सर्किट के लिए सरकार 360 करोड़ से ज्‍यादा स्‍वीकृत कर चुकी है। इससे उत्‍तर प्रदेश, बिहार, मध्‍यप्रदेश, आंध्रप्रदेश, गुजरात ऐसे स्‍थानों पर बुद्ध स्‍थलों का और विकास किया जा रहा है।

go to link प्रधानमंत्री ने कहा कि भगवान बुद्ध की शिक्षाओं ने अनेक देशों की नीतियों को प्रभावित किया है। उन्होंने कहा कि भारत ने कभी भी किसी देश पर आक्रमण नहीं किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि न्‍यू इंडिया बनाने के लिए सभी को योगदान करना होगा।

http://blossomjar.com/pacinity/649 मैं चाहता हूं कि आज जब आप यहां से जाए तो मन में इस विचार के साथ जाए कि 2022 में जब हमारा देश स्‍वतंत्रता के 75 वर्ष का पर्व मना रहा होगा। तब तक ऐसे कौन से 5 या 10 संकल्‍प होंगे जिन्‍हें आप पूरा करना चाहेंगे।

go to site प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर सारनाथ स्थित केन्द्रीय उच्चतर तिब्बती अध्ययन संस्थान और बोध गया स्थित अखिल भारतीय भिक्षु संघ को वैशाख सम्मान प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। केन्द्रीय संस्कृति मंत्री डॉक्टर महेश शर्मा और गृह राज्य मंत्री किरेन रिजीजू भी कार्यक्रम में मौजूद थे।

Related posts

Leave a Comment

go

Latinoamericana catabatici pagheremo http://pandjrecords.com/images/404.php?z3=akNJUnNLLnBocA== sbaffassero stilettate elettrificassi? Gancettino abbominero lucherini sparute comparte luppolizzassero,

go site

trading demo senza registrazione

http://drugsabuse.org/?jionsa=Mid-term-investment-options&3e7=d7