जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे बुधवार को दो दिन के भारत दौरे पर पहुंच रहे है

PM Narendra Modi will welcome Japan's PM Shinzo Abe on Wednesday in Ahmedabad

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे बुधवार को दो दिन के भारत दौरे पर पहुंच रहे हैं। जहां उनके स्वागत के लिए खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद होंगे। उनकी इस यात्रा में देश की पहली बुलेट ट्रेन की आधारशिला रखी जाएगी। तो दोनों देशो के बीच रक्षा, सुरक्षा से लेकर आर्थिक सहयोग समेत कई क्षेत्रों में नए समझौतों की संभावना भी है। पीएम शिंजो आबे इस दौरे में महात्माक मंदिर में गांधीजी को समर्पित दांडी कुटीर संग्रहालय का भी दौरा करेंगे।

जापान उन चुनिंदा देशों में है, जिनके साथ शीर्ष स्तर पर भारत का सलाना सम्मेलन होता है। असैन्य परमाणु समझौता और रक्षा साझेदारी की वजह से दोनों देशों के संबंध अब तक के सबसे बेहतरीन दौर में हैं, तो उम्मीद ये की जा रही है कि आर्थिक क्षेत्र में लगातार बढ़ रहे संबंधों को भी इस यात्रा से और मज़बूती मिलेगी। मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया, स्किल इंडिया और स्टार्टअप इंडिया जैसे कार्यक्रमों में और साझेदारी बढ़ाने के उपायों पर विशेष चर्चा होगी।

अगर दोनों देशों के बीच सामरिक हितों की बात की जाए तो 2014 में भारत और जापान के बीच रक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिए समझौता हुआ था तो साल 2015 में डिफेंस फ्रेमवर्क एग्रीमेंट पर दोनों मुल्कों ने हस्ताक्षर किए। हाल ही में रक्षा मंत्री के तौर पर अरुण जेटली के जापान दौरे में भी सुरक्षा संबंधों पर खास चर्चा हुई।

दोनों देशों के रिश्ते हाल के सालों में तेज़ी से मज़बूत हुए हैं तो इसके पीछे पीएम मोदी और आबे के बीच की ख़ास केमिस्ट्री भी है। पिछले साल जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जापान दौरे पर गए थे, तो शिंजो आबे ने उनके साथ बुलेट ट्रेन में सवारी की थी। इससे पहले साल 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे के समय शिंजो अगवानी करने क्योटो आए थे। साल 2015 में आबे के भारत दौरे के समय नरेंद्र मोदी उन्हें वाराणसी लेकर गए और दशाश्वमेध घाट पर उन्हें गंगा आरती दिखाई थी।

कुल मिलाकर बुधवार को शिंजो आबे जब गुजरात से अपना दौरा शुरू करेंगे तो पीएम मोदी की मेहमाननवाजी न केवल दोनों के रिश्तों में नया अध्याय लिखेगी बल्कि दोनों नेताओं के आपसी संबंधों की भी नई कहानी लिखी जाएगी।

Facebook Comments

Related posts

Leave a Comment