इसरो ने आई आर एन एस एस-वन आई की कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित किया

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन-इसरो ने आई.आर.एन.एस.एस.- वन आई दिशासूचक उपग्रह को कल रात चौथे और अंतिम प्रयास में सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापित कर दिया। तीसरा प्रयास शनिवार को किया गया था।

भारतीय क्षेत्रीय दिशासूचक उपग्रह प्रणाली आई.आर. एन.एस.एस.- वन आई इस श्रृंखला का आठवां और अंतिम उपग्रह है। पूरी तरह स्वदेश में निर्मित इस दिशा सूचक उपग्रह से सही स्थिति की जानकारी मिल सकेगी। पी.एस.एल.वी.- सी 41 प्रक्षेपण यान से बृहस्पतिवार को यह उपग्रह श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपित किया गया था।

इसरो ने देर रात नौ बजकर 20 मिनट पर दि‍शा सूचक उपग्रह आई आर एन एस एस – वन-आई की कक्षा ऊपर करने के लिए चौथा और अंतिम अभियान शुरू किया। इस अभियान का लक्ष्‍य उपग्रह को न्‍यूनतम 35 हजार तीन सौ 81 किलोमीटर और अधिकतम 35 हजार सात सौ 93 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्‍थापित करना है। इस उपग्रह को पिछले बृहस्‍पतिवार को श्रीहरिकोटा से अंतरिक्ष यान पी एस एल वी – सी 41 के जरिए सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया गया था।

Related posts

Leave a Comment