करो या मरो के मुकाबले में भारत का सामना न्यूजीलैंड से

India faces New Zealand in comparison to Do or Die

लगातार दो हार के बाद भारत टूटे मनोबल के साथ कल करो या मरो के मुकाबले में न्यूजीलैंड से खेलेगा तो उसके लिये यह क्वार्टर फाइनल की तरह होगा जिसमें हार के मायने आईसीसी महिला विश्व कप से बाहर होना होंगे।

अंकतालिका में चौथे स्थान पर काबिज भारत को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिये यह मैच हर हालत में जीतना है। लगातार चार जीत के साथ आगाज करने वाली भारतीय टीम को बुधवार को लगातार दूसरी हार झेलनी पड़ी। उसे आस्ट्रेलिया ने आठ विकेट से हराया। पूनम राउत का शतक और कप्तान मिताली राज के रिकार्डतोड़ 69 रन भी उसे हार से बचा नहीं सके।

मेजबान इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और गत चैम्पियन आस्ट्रेलिया पहले ही सेमीफाइनल में पहुंच चुके हैं। आखिरी लीग मैच में ये टीमें सेमीफाइनल में अपनी स्थिति तय करने के लिये उतरेंगी। वहीं भारत और न्यूजीलैंड के लिये यह करो या मरो का मैच है।

भारत ने पिछले मैच में काफी धीमी बल्लेबाजी की। स्मृति मंधाना के जल्दी आउट होने के बाद मिताली और राउत ने धीमी शुरूआत की जिससे आस्ट्रेलियाई स्पिनरों को दबाव बनाने का मौका मिला।

एक दिवसीय क्रिकेट में 6000 रन बनाने वाली पहली महिला बनी मिताली ने पहले 20 रन बनाने के लिये 54 गेंद खेली। उसने 69 रन बनाने के लिये 114 गेंद खेल डाली।

पहले दो मैचों में अच्छे प्रदर्शन के बाद मंधाना की बल्ला खामोश है और उसे कल उम्दा पारी खेलनी होगी। उसके अलावा राउत , मिताली और हरमनप्रीत कौर से भी अच्छी पारी की उम्मीद होगी।

Related posts

Leave a Comment