उच्‍चतम न्‍यायालय राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्‍ली में बढ़ते प्रदूषण पर रोक लगाने की मांग से जुड़ी नई याचिका पर आज सुनवाई

Supreme Court refuses to ban bank account and mobile number from linking

उच्‍चतम न्‍यायालय राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्‍ली में बढ़ते प्रदूषण पर रोक लगाने की मांग से जुड़ी नई याचिका पर आज सुनवाई करेगा। प्रधान न्‍यायाधीश न्‍यायमूर्ति दीपक मिश्रा और न्‍यायमूर्ति ए. एम. खानविलकर तथा डी. वाई. चंद्रचूड़ की पीठ ने वकील आर.के.कपूर की अर्जी स्‍वीकार कर ली।

पीठ ने कहा कि प्रदूषण के मुद्दे को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता इसलिए सूचीबद्ध सभी मुकदमों के बाद आज ही इस याचिका पर सुनवाई की जाएगी।

इस बीच, दिल्‍ली और उसके आसपास के क्षेत्रों में धुएं और धुंध की स्थिति में सुधार हुआ है लेकिन वायु गुणवत्‍ता का स्‍तर अब भी खराब है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने कहा है कि 11 बजे तक वायु गुणवत्‍ता सूचकांक 476 पर था। वायु गुणवत्‍ता सूचकांक को शून्‍य से पांच सौ के स्‍तर पर मापा जाता है जिसमें पांच सौ का स्‍तर सबसे खराब है।

धुंध के कारण सड़क, रेल और हवाई यातायात पर असर पड़ा। इंदिरा गांधी अंतर्राष्‍ट्रीय हवाई अड्डे पर साठ से अधिक उड़ानें प्रभावित हुईं।

इस बीच दिल्‍ली सरकार ने सम विषम योजना में दुपहिया वाहनों और महिला चालकों को छूट दिए जाने संबंधी नई याचिका आज राष्‍ट्रीय हरित अधिकरण में दायर की।

Related posts