श्रीलंका में स्‍थानीय निकाय चुनावों में पूर्व राष्‍ट्रपति महिन्‍दा राजपक्षे के समर्थन वाला गठबंधन भारी जीत की ओर

http://coconutcharcoalindonesia.com/?decerko=bin%C3%A4re-optionen-broker-demokonto&6a7=de श्रीलंका में कल हुए स्‍थानीय निकाय चुनाव में पूर्व राष्‍ट्रपति महिन्‍दा राजपक्षे समर्थित गठबंधन भारी विजय की ओर बढ़ रहा है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि राष्‍ट्रपति मैत्रीपाल सिरीसेना और प्रधानमंत्री रानिल विक्रम सिंघ के समर्थन वाले गठबंधन को उनके गढ़ में ही भारी झटका लगा है जिससे राष्ट्रीय राजनीति में उथल-पुथल होने की संभावना है।

http://highschool.isq.edu.mx/cr45/6967/assets/js/6764 पूर्व राष्‍ट्रपति महिन्‍द्र राजपक्षे ने जहां जोरदार तरीके से वापसी की है वहीं राष्‍ट्रपति श्रीसेना के लिए यह राजनीतिक संकट की घड़ी है। कोलम्‍बों में उनकी पार्टी की प्रधानमंत्री रनिल विक्रम सिंघे के पार्टी के साथ साझा सरकार है लेकिन इन चुनावों के दौरान उन्‍होंने भ्रष्‍टाचार के मुद्दे पर प्रधानमंत्री की पार्टी को आड़े हाथों लिया। जिसका नुकसान दोनों को उठाना पड़ा। राष्‍ट्रपति पर जहां अपनी पार्टी की कमान राजपक्षे को देने का दबाव हो सकता है, वहीं प्रधानमंत्री के दल में भी अंतरकलह हो सकता है। ऐसे में देश की राजनीति क्‍या करवट लेगी वह आने वाले दिनों में ही साफ होगा।

Related posts